Propellerads_Image Source Google

Real Estate Project In Lucknow_Nishant Anand

Mi Neck Band_Image Source Google

Radha Krishna भगवान की उपासना से प्राप्त करे संतान सुख

Propellerads_Image Source Google

Real Estate Project In Lucknow_Nishant Anand

Mi Neck Band_Image Source Google

Radha Krishna भगवान की उपासना से प्राप्त करे संतान सुख

Radha Krishna भगवान की उपासना से प्राप्त करे संतान सुख-संतान का सुख इस पृथ्वी का सबसे बड़ा सुख माना जाता हैं.बहुत से लोग इस सुख से वंचित रहते हैं, बहुत सारे प्रयास करने के बाद भी उन्हें संतान का सुख नहीं प्राप्त होता हैं .हिन्दू पुराणों में संतान प्राप्ति के लिए एक सिद्ध आराधना के बारे में बताया हैं इसमें Bhagwan Shree Krishna को प्रसन्न करके संतान की प्राप्ति सम्भव होती हैं.

Radha Krishna भगवान की उपासना से प्राप्त करे संतान सुख

इस आराधन को व्रत (Fast)के रूप में किया जाता हैं. ये व्रत पुत्रदा एकादशी का व्रत होता हैं.जो कि निर्जल व्रत और फलाहारी या जलीय व्रत के रूप में होता हैं.निर्जल व्रत पूर्ण रूप से स्वस्थ्य व्यक्ति को ही रखना रहिये. सामान्य लोगों को फलाहारी या जलीय उपवास रख कर आराधना करनी चाहिए.

पुत्रदा एकादशी का व्रत संतान प्राप्ति का तो व्रत तो होता हैं, साथ में संतान से जुड़ी समस्याओं के निराकरण के लिए भी ये व्रत उत्तम होता हैं.सावन की पुत्रदा एकादशी विशेष महत्त्व रखती हैं. इस लिए इस माह में इस व्रत का अति फलदायी असर होता हैं

पुत्रदा एकादशी व्रत के लिए क्या हैं नियम

दो तरह से इस व्रत को रखा जाता हैं,पहला निर्जला व्रत और फलाहारी व्रत निर्जला व्रतका प्रण लेने वाले भक्त जब तक व्रत चल रहा होता हैं, तब तक किसी भी प्रकार के खाद्य पदार्थ का सेवन नहीं कर सकते हैं, यहाँ तक पानी भी नहीं पी सकते हैं .फलाहारी व्रत रखने वाले व्रत के लिए शास्त्रों के नियम से जिस खाद्य पदार्थ की आज्ञा हैं ,इसको इस व्रत में ग्रहण कर सकते हैं .

संतान संबंधी मनोकामनाओं के लिए इस एकादशी के दिन Bhagwan Shree Krishna या Shree Narayan की उपासना करनी चाहिए.इस दिन सुबह के वक्त पति-पत्नी संयुक्त रूप से भगवान श्री कृष्ण की उपासना करें. उन्हें पीले फल, पीले फूल, तुलसी और पंचामृत अर्पित करें.

संतान गोपाल मंत्र का करे जाप

संतान प्राप्ति या संतान से जुडी हुई समस्याओं के निवारण हेतु इस मंत्र का जाप अवश्य करे.

santan prapti vrat_Hindu Mantra Gyan

मंत्र जाप के बाद पति पत्नी दोनों संयुक्त रूप से प्रसाद को ग्रहण करे, साथ ही अगले दिन इस व्रत का अनुपालन करना उत्तम माना गया हैं.

Kundali Bhagya-If The Sun Is Weak In The Kundali,Then Be Strong With These 3 Measures Luck Will Shine

Lion Quotes Inspiration Ethics The Value Of Courage

Propellerads_Image Source Google

Real Estate Project In Lucknow_Nishant Anand

Mi Neck Band_Image Source Google

%d bloggers like this: